Breaking NewsGujaratRajkotSaurashtra

गुजरात : 12वी में रिक्शा चालक के बेटेने 99.98 PR तो मजदूर के बेटेने 99.99 PR हांसिल किए

राजकोट : आज गुजरात बोर्ड द्वारा 12वी कक्षा के नतीजों की घोषणा की है। जिसमें धोलकिया स्कूल के विद्यार्थियों ने बाजी मारी है। और एक रिक्शा चालक के बेटे ने 99.98 PR तो मजदूर के बेटे ने 99.99 PR हांसिल किए है। दोंनो ने इसके लिए अपने माता-पिता टीचर्स व अपनी महेनत को इसका कारण बताया था। और अन्य विद्यार्थियों को शुरू से आखिर तक पढ़ाई पर ध्यान देने की सलाह दी है।

हररोज 5-7 घंटे पढ़ाई करता था : प्रतीक चौहाण

12 वी कक्षा में 99.99 PR हांसिल करनेवाले प्रतीक चौहाण के पिता वाहनों में सीट फिटिंग की मजदूरी का काम करते है। लेकिन बेटे को अच्छे से अच्छी पढ़ाई करवाने का उनका सपना है। प्रतीक ने भी पिता के इस सपने को पूरा करने की ठान ली थी। 10वी कक्षा में 82 प्रतिशत आने के बाद वह कमरे में बंद होकर रोने लगा। हालांकि बादमें 12वी में टॉप करने की मंछा के साथ वह प्रतिदिन 5-7 घंटे पढ़ाई करने लगा। और इसी कारण उसे यह सफलता मिली है। आगे चलकर सीए बनने की इच्छा प्रतीक ने जताई है।

स्कूल की मदद और टीचर्स के मार्गदर्शन से सफलता मिली : दीप हिंगराजिया

ऑटो रिक्शा चालक के बेटे दीप हिंगराजिया की माता पापड़ बनाने का काम करती है। दीप ने बताया कि, हमारी आर्थिक स्थिति खराब होनेके चलते माता-पिता पढ़ाने में समर्थ नही है। लेकिन मेरी प्रतिभा को भांप स्कूल ने मुजे मदद की। और सभी टीचर्स ने भी समय समय पर जरूरी मार्गदर्शन दिया। इसी कारण आज में इस मकाम तक पहुंच पाया हूं। मुजे स्टेटेस्टीक में पूरे 100 मार्क्स और एकाउंट में 94 मार्क्स मिले है। और में भी सीए बनना चाहता हूं।

मामूली ड्राइवर की बेटी ने हांसिल किए 99.97 PR

राजकोट निवासी माला क्रिष्ना ने भी 12वी में 99.97 PR हांसिल कर अपने पिता का सिर फक्र से ऊंचा कर दिया है। क्रिष्ना के पिता प्राइवेट स्कूल में ड्राइवर की नौकरी करते है। क्रिष्ना ने कहा कि, मेरे घर की माली हालत ठीक नहीं होने के कारण बिना किसी ट्यूशन के महेनत शुरू कर दी थी। जिसमें स्कूल के टीचर्स का पूरा सहयोग मिलने के कारण मुजे सफलता मिली है।

Related posts

हिस्ट्रीशीटर सूर्या मराठी को उसीके साथियों ने मरवाया, चार गिरफ्तार

Rajkotlive News

गुजरात के राजकोट में चलती है अनूठी रोटी बैंक, लोग जमा करवाते है असली घी वाली हजारो रोटियां

Rajkotlive News

નવજાતોને પણ રાત્રે સારી ઊંઘ જરૂરી, જે વધારે ઊંઘે છે તે ઓવરવેઈટ નથી થતા

Rajkotlive News