Breaking NewsGujaratIndia

दिल्ली सरकार से SC ने पूछा- कोरोना की टेस्टिंग क्यों घटाई? अस्पतालों में हालात बदतर

दिल्ली में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों और लगातार खराब होती स्थिति पर शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई. सर्वोच्च अदालत ने इस दौरान दिल्ली के हालात पर चिंता व्यक्त की है. SC ने राज्य सरकार से पूछा है कि दिल्ली में टेस्टिंग कम क्यों हो गई है.

इस दौरान सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि दिल्ली में कुछ दिक्कत है, क्योंकि टेस्टिंग अब 7000 से कम होकर सिर्फ 5000 तक पहुंच गई है. सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली सरकार से पूछा कि आपने टेस्टिंग क्यों घटा दी है. मुंबई और चेन्नई जैसे शहरों ने टेस्टिंग बढ़ा दी है और आज 15-17000 टेस्ट रोज कर रहे हैं. लेकिन दिल्ली सिर्फ 5000 टेस्टिंग हो रही है. शवों के साथ किस तरह का व्यवहार किया जा रहा है, हालात बहुत खराब हैं.

सुनवाई के दौरान सॉलिसिटर जनरल ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि केंद्र सरकार की ओर से शवों को लेकर गाइडलाइन्स जारी की गई हैं. सॉलिसिटर जनरल ने कहा कि मरीजों के इलाज को लेकर सरकारों के द्वारा काम किया जा रहा है, लेकिन कल जो देखा गया वो काफी भयावह था.

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि केंद्र सरकार की गाइडलाइन्स के बाद भी अगर राज्य इन्हें लागू नहीं कर रहे हैं तो आप क्या कर रहे हैं? एक राज्य में लाश गटर में मिल रही है. अगर बेड हैं तो फिर सरकारी अस्पतालों की स्थिति क्या है?

सॉलिसिटर जनरल ने अदालत को बताया कि मीडिया रिपोर्ट्स में दिखाया जा रहा है कि शवों के साथ ही मरीजों का इलाज हो रहा है. इसपर दिल्ली के वकील ने कहा कि LG ने इस मामले में कमेटी बनाई है जो मसला देख रही है.

 

Related posts

गुजरात में कोरोना वायरस के लिए कांग्रेस ने ‘नमस्ते ट्रंप’ कार्यक्रम को ठहराया जिम्मेदार

Rajkotlive News

સેનાએ દેશને એક વર્ષ માટે કંટ્રોલમાં લીધી, સ્ટેટ કાઉન્સેલર આંગ સાન સૂ અને રાષ્ટ્રપતિની અટકાયત

Rajkotlive News

અવાજ રેકોર્ડ કરી કંપનીઓ તમારો મૂડ, વ્યક્તિત્વ-લાગણીઓ જાણી લેશે, આ બધા ડેટાથી તેમની કમાણીનો નવો રસ્તો ખોલશે

Rajkotlive News