Breaking NewsIndiaWorld

नोएडा में अस्पतालों के चक्कर लगाती रही गर्भवती, नहीं किया एडमिट, एंबुलेंस में मौत

उत्तर प्रदेश के नोएडा में 8 महीने की एक गर्भवती महिला की समय से इलाज न मिल पाने की वजह से मौत हो गई. महिला के परिजन उसे लेकर कई अस्पतालों में पहुंचे लेकिन अस्पतालों ने एडमिट करने से मना कर दिया. महिला की गर्भ में पल रहे बच्चे समेत मौत हो गई. समाजवादी पार्टी ने नेता अनुराग भदौरिया ने यूपी सरकार के स्वास्थ्य तंत्र को ध्वस्त बताया है.
उन्होंने कहा, ‘नोएडा में गर्भवती महिला दर-दर भटकती रही और अस्पताल में जगह नहीं मिली. पूरा का पूरा स्वास्थ्य सिस्टम ध्वस्त है. इस महिला के मौत की जिम्मेदारी कौन लेगा. सरकार की जिम्मेदारी तय करें और नोएडा प्रशासन पर कार्रवाई करें. सिर्फ दिखावे और कागज की कार्रवाई हो रही है और बड़ी-बड़ी बातें की जा रही हैं लेकिन सरकार अपनी जिम्मेदारी से नहीं बच सकती.’

वहीं कांग्रेस प्रवक्ता अखिलेश सिंह ने भी योगी सरकार की आलोचना की है. उन्होंने भी नोएडा में हुई घटना पर दोषी अस्पतालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है.
वहीं कांग्रेस पार्टी की विधायक दल की नेता आराधना मिश्रा ने कहा कि जिस तरीके से वह गर्भवती महिला गौतम बुद्ध नगर के 8 अस्पतालों में गई, यह साफ दर्शाता है कि किस तरीके से स्वास्थ्य व्यवस्था चरमरा गई है. मेरा सरकार से सीधा सवाल है कि और कितनी आहुतियां सरकार लेगी, तब वह जागेगी.

Related posts

पूर्व विधायक की रेन्जरोवर कार में हाइवे पर लगी आग, बाल-बाल बचे ड्राइवर समेत तीन

Rajkotlive News

કોરોના મહામારી વચ્ચે નવા શૈક્ષણિક સત્રથી સ્વનિર્ભર શાળાની ફી વધારવા માંગણી.

Rajkotlive News

नाबालिग पर गैंगरेप कर फोटोज वायरल करने की धमकी, लाखों के गहने-रुपये ऐंठ लिए

Rajkotlive News