Breaking News Gujarat World

गुजरात के डोक्टर ने फोन से ईलाज कर अमरीका में दोस्त की पत्नी, बेटी व नाति को कोरोनामुक्त किया

अहमदाबाद : एकतरफ शहर में कोरोना का कहर चल रहा है। सरकार के कई प्रयासों के बावजूद भी प्रतिदिन संक्रमण तेजी से फैल रहा है। इसी बीच एक काफी अच्छी खबर सामने आई है। जिसमें शहर के डोक्टर ने न सिर्फ फोन से अपने दोस्त के अमरीका में स्थित परिजनों का ईलाज किया बल्कि, उसकी पत्नी, बेटी और नाति को कोरोनामुक्त किया है। जिसके चलते लोग यूएन महेता हार्ट इंस्टिट्यूट के डोक्टर आर के पटेल की प्रशंसा करने लगे है।

संवाददाता के मुताबिक, गुजरात यूनिवर्सिटी के डीन और पालड़ी स्थित एस. एल. यू कॉलेज के प्रोफेसर जसवंत ठक्कर की पत्नी विनोदाबेन अमरीका के एटलांटा में बेटे पार्थ के साथ रहती है। वहां पास में ही उनकी बेटी पूजा अपने पति चिराग के साथ रहती है। इसीलिए विनोदाबेन बेटी के संतानो की देखरेख के लिए जाती रहती थी। 20 अप्रैल को पूजा के बेटे क्रिस का पहला बर्थडे होने के कारण उसकी तैयारियां चल रही थी।

लेकिन क्रिस का बर्थडे मनाने से पहले 19 अप्रैल को ही पार्थ ने पिता जसवंतभाई को विनोदाबेन, पूजा व क्रिस के कोरोना पॉजिटिव होने की जानकारी दी थी। जिसके चलते उन्होंने अपने दोस्त और यू. एन. महेता हार्ट इंस्टिट्यूट के डायरेक्टर डोक्टर आर. के. पटेल को इस बारेमें बताया। और उनसे मदद करने की मांग की थी। और डो. पटेल ने तीनों को आइसोलेट करने की सलाह दी।

बादमें अमरीका कोल करने पर पता चला कि, पूजा को डायरिया, क्रिस को बुखार और विनोदाबेन को गले में दर्द की शिकायत है। इस पर डोक्टर पटेल ने पूजा को एंटीबायोटिक दवाई देने के साथ लिक्विड लेने की सलाह दी। क्रिस को बुखार की दवाई दी गई, और वो तीन-चार दिनों में स्वस्थ होने लगा था। विनोदाबेन को क्वोरंटाईन कर आयुर्वेदिक पद्धति से नमक-हल्दी के गरारे और नींबू पानी पीने की सलाह दी।

हालांकि 8 दिनों तक पूजा को राहत नहीं मिलने पर उन्होंने गेंहू के आटे में अजवाइन, लोंग और गोल से बना मिश्रण पीने को कहा। इससे 12 दिनों बाद पूजा को राहत मिली। और 3 मई को उनका टेस्ट करवाने पर निगेटिव आया। बादमें 5 मई को विनोदाबेन और क्रिस की रिपोर्ट भी निगेटिव आई। और तीनों कोरोना से मुक्त बन गए। इस प्रकार सिर्फ फोन द्वारा ही डो. पटेल ने तीनों का इलाज कर सुर्खियां बटोरी है।

Related posts

गुजरात में मतदान को गुप्त रखने के नियम का सरेआम भंग, ईवीएम और विविपेट के विडियो वायरल

Rajkotlive News

गुजरात : परिवार मिन्नतें करता रहा पर नहीं मिला इलाज, गर्भवती महिला समेत जुड़वा बच्चों की मौत

Rajkotlive News

गुजरात सरकारी अस्पताल की लापरवाही, कैंसर का कागजों में लापता मरीज मुर्दाघर से मिला !

Rajkotlive News