Uncategorized

8 बच्चों ने खेल-खेल में कोरोना को हराया, कब ठीक हो गए, पता ही नहीं चला

.

राजकोट. कोरोना के नाम से आज कई लोगों की हालत ही खराब हो जाती है। पर राजकोट के 8 बच्चों ने खेल-खेल में कोरोना से जंग जीत ली। उन्हें पता ही नहीं चला कि वे कब ठीक हो गए। रोग प्रतिरोधात्मक शक्ति बढ़ाने के लिए उन्हें रोज नींबू वाला गरम पानी दिया जाता था।..

हॉस्पिटल में भी धमाचौकड़ी मचाते..

शहर में डेढ़ महीने की बच्ची से लेकर 16 साल के किशोर की रिपोर्ट पॉजीटिव आई। इन बच्चों ने बिना किसी डर के खेल-खेल में कोरोना को हरा दिया। हॉस्पिटल में भी वे सब ऐसे रहे, मानों घर पर रह रहे हों। उसी मस्ती के साथ वे हॉस्पिटल में भी धमाचौकड़ी मचाते। हॉस्पिटल में उन्हें किसी प्रकार की दवाएं भी नहीं दी गई। इसके बाद भी वे सभी स्वस्थ होकर घर चले गए।..

हमें कुछ भी नहीं पता….
बच्चों ने कहा कि हमारी रिपोर्ट कब पॉजीटिव आई, हम कब ठीक हुए, हमें नहीं पता। हम हॉस्पिटल में भी खेलते-कूदते रहते थे। इस खेल में हमें डॉक्टर्स-नर्स का भी साथ मिलता। वे हमें कहानियां सुनाते। सीएमओ से हमारा हाल-चाल पूछा जाता। हमें इतना ही याद है कि हमें रोज नींबू वाला गरम पानी पीने को दिया जाता।..

आठों बाल योद्धाओं के नाम..

रुही आरिफभाई पीलुडिया (डेढ़ महीने), वकार एहमद (2), आदिल हुसैन पताणी (10)] परवेल हुसैन पताणी (13), सकील युसुफ भाई मुडस (16), साहिद इकबाल हलाणी (16), रियाल अल्ताफ पताणी (17), साहिल दिलदार बलोच (16)।..

रूही को विटामिन की बूंदें दी जाती..

आरिफ भाई पीलुड़िया की 11 दिन की बेटी रूही कोरोना पॉजीटिव थी। बच्ची को लगातार एक महीने तक केवल विटामिन की बूंदें दी जाती। डॉक्टर्स ने मासूम को आवश्यक वेक्सीन देकर एक महीने में ही ठीक कर दिया।

वार्ड में डॉक्टर्स कहानी सुनाते..

13 वषी्रय परवेज हुसैन पताणी के माता-पिता ने बताया कि बच्चे की रिपोर्ट पॉजीटिव आते ही हमें चिंता होने लगी। परंतु हॉस्पिटल् के डॉक्टर्स खुद वार्ड में आकर बच्चों को कहानियां सुनाते। उनके अपनापे से ही बच्चों की तबीयत सुधर गई।..

बच्चों की हर फरमाइश पूरी की जाती..
दो साल के बच्चे वकार अहमद वेद की रिपोर्ट पॉजीटिव आई। तब अस्पताल में भर्ती बच्चों को समय-समय पर दूध दिया जाता। खाना होटल से आता। बच्चों की हर तरह की फरमाइश पूरी की जाती। रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए उन्हें नींबू वाला गरम पानी दिया जाता।..

Related posts

पाकिस्तान की बातें बंद कर देश में नौकरियों और किसानों की बात करें मोदी: सिंधिया

Rajkotlive News

પ્રેમના દિવસો પર મોતનું મોજું ફળી વળ્યું:

Rajkotlive News

2 થી 18 વર્ષના વયજૂથમાં કોવેક્સિનની બીજી-ત્રીજી ક્લિનિકલ ટ્રાયલને DCGIની મંજૂરી

Rajkotlive News