Breaking NewsGujaratJunagadhRajkotSaurashtra

डोक्टर बेटी के पिता लगाते है केले का ठेला, कारण जानकर चौंक जाएंगे आप

 

राजकोट : देशभर में कोरोना को लेकर लोकडाउन की घोषणा की गई है। जिसके चलते लोगों को घरमें रहना अनिवार्य हो गया है। हालांकि सब्जी, फ्रूट, दूध समेत किराना जैसी जीवन जरुरी चीजों के व्यापारियों को खास छूट दी गई है। इस कारण धोराजी निवासी एक व्यक्ति ने केले का ठेला निकालना शुरु किया है। पत्नी की कुछ समय पहले मौत हो गई। और एकमात्र बेटी डोक्टर बनने के बाद जुनागढ होने के कारण उसने ये काम शुरू किया है।

यह केले का ठेला चलानेवाले अशोकभाई चिमनभाई पंजवाणी ने बताया था कि, लंबी बीमारी के बाद कुछ समय पहले ही पत्नी सीमा का देहांत हो गया। संतान में एक बेटी है। जो मेडिकल की पढ़ाई खत्म करने के बाद जुनागढ शहर के प्राइवेट अस्पताल में डोक्टर है। इसी कारण घर में अकेला रहना पड़ता है। इसमें भी लोकडाउन होने के कारण संबंधी और दोस्तों के साथ मुलाकातें भी बंद हो गई। और दिमाग में तरह-तरह के ख्याल आने लगे थे।

इसी बीच मैंने सोचा कि, कोई ऐसा रास्ता निकाला जाए जिसमे, लोकडाउन का पालन हो, अकेले ही घरमें न रहना पड़े और समाज की भी कुछ मदद कर सकूं। इसीलिए मैंने केले का ठेला लगाना शुरू किया। जिससे प्रतिदिन समय तो निकलता ही है। साथ ही लोकडाउन के नियमों का पालन भी हो जाता है। और थोड़ी-बहोत आमदनी भी हो जाती है।

इतना ही नहीं जब भी कोई जरूरतमंद व्यक्ति दिखाई देता है। तो में उसको मुफ्त में ही केले खिला देता हूं। जिससे समाज की मदद करने का आनंद मिलता है। अब सुबह से शाम तक इसी में व्यस्त रहता हूं। जिसके चलते प्रतिदिन अच्छी नींद आ जाती है। बेटी डॉक्टर होने के बाद भी एक पिता द्वारा किए जा रहे इस कार्य की लोग जमकर प्रशंसा कर रहे है।

Related posts

पीएम केयर्स फंड को लेकर यशवंत सिन्हा बोले- अब भगवान ही मालिक है

Rajkotlive News

*વિધવા બહેનોની મનોસમાજિક સમસ્યાઓ: કેસ સ્ટડી:* સૌરાષ્ટ્ર યુનિવર્સિટીના મનોવિજ્ઞાન ભવનનો સર્વે.

Rajkotlive News

गुजरात : 10 से ज्यादा स्पा में पुलिस की रेड, तीन संचालक समेत 18 विदेशी युवतियां हिरासत में

Rajkotlive News