Breaking News India

प्रवासी मजदूरों पर SC का आदेश- आवाजाही को रोके केंद्र सरकार, करे कार्रवाई

कोरोना संकट और लॉकडाउन के बीच प्रवासी मजदूरों की आवाजाही का मामला सुप्रीम कोर्ट में पहुंच गया है. एक जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को मामले की जांच करने और दो राज्यों के बीच मजदूरों की आवाजही के मामले में कार्रवाई करने का आदेश दिया है.

सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने पूछा कि कैसे जानकारी को सत्यापित किया जाएगा कि प्रवासी मजदूरों की आवाजाही नहीं बंद हुई है. इस पर याचिकाकर्ता ने अदालत को बताया कि कुछ राज्य सरकारों का कहना है कि वे लोगों को उनके मूल गांवों में वापस भेज देंगे, लेकिन गृह मंत्रालय की ओर से किसी भी आवाजाही की अनुमति नहीं है.

इस मामले में सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने बताया कि गृह मंत्रालय ने मजदूरों को लेकर दिशानिर्देश जारी किए हैं. गौरतलब है कि बीते दिनों गृह मंत्रालय ने मजदूरों की आवाजाही के लिए स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग सिस्टम जारी किया था. इसमें कहा गया था कि मजदूरों को किसी भी प्रकार के अंतर-राज्य आवाजाही की अनुमति नहीं होगी.

गृह सचिव अजय भल्ला ने कहा था कि लॉकडाउन के कारण देश के विभिन्न हिस्सों में फंसे हुए मजदूरों को कुछ शर्तों के साथ राज्य के भीतर उनके काम के स्थानों पर जाने की अनुमति दी जाएगी. हालांकि, तीन मई तक बढ़ाए गए लॉकडाउन के दौरान मजदूरों को किसी भी प्रकार के अंतर-राज्य आवाजाही की अनुमति नहीं होगी.

Related posts

पत्नी को रोज देता था घर से निकालने की धमकी, कोर्ट ने पति की एंट्री पर ही लगा दी रोक

Rajkotlive News

अजीब है ये रेलवे स्टेशन ! टिकट कटती है महाराष्ट्र से और ट्रेन पकड़ना पड़ती है गुजरात से….

Rajkotlive News

कोरोना के संक्रमण से बचाव हेतु राजकोट रेलवे अस्पताल की नर्स ने बनाए फ़ेस मास्क शील्ड

Rajkotlive News

Leave a Comment