Breaking News India

रमजान में बनाए रखनी होगी सोशल डिस्टेंसिंग, अल्पसंख्यक मंत्रालय ने जारी की एडवाइजरी

नई दिल्ली। देशभर में आज पाक महीने रमजान की शुरुआत हो गई है। रमजान उल मुबारक महीने का पहला रोजा शनिवार को रखा जाएगा। इस वर्ष कोरोना वायरस ( Coronavirus ) जैसी महामारी की वजह से लगाए गए लॉकडाउन ( Lockdown ) के बीच रजमान का महीना शुरू हो रहा है।

अल्लाह की इबादत के इस खास पर्व पर भी सामाजिक दूरी ( Social Distancing ) का ख्याल रखना जरूरी है। यही वजह है कि केंद्रीय अल्पसंख्यक मंत्रालय ( Ministry Of Minority ) समेत मुस्लिम संस्थानों ( Muslim Organisation ) की ओर से मुस्लिम समुदाय के लोगों को घरों पर ही रहकर इबादत और इफ्तार करने की हिदायत दी जा रही है।।

माहे रमजान के दौरान देशभर की करीब 7 लाख से ज्यादा मस्जिदों में इस बार तस्वीर अलग दिखेगी। इसकी वजह कोरोना वायरस का प्रकोप है।

देशभर में 3 मई तक लॉकडाउन है और धार्मिक स्थलों में जाने पर पाबंदी लगी हुई है। ऐसे में मस्जिदों में नमाज, तरावीह और सामूहिक इफ्तार नहीं हो सकेगा।

मुस्लिम उलेमाओं की अपील
इसके अलावा मुस्लिम उलेमाओं ने भी लोगों से अपील की है कि महामारी को देखते हुए इस बार रमजान में सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का पालन करें। यह सभी के लिए फायदेमंद है।

इसी महीने में मुस्लिम समुदाय के लोग अधिक संख्या में जकात अदा करते हैं। इसके चलते ज्यादा से ज्यादा गरीबों और जरूरतमंदों की मदद करने के लिए भी कहा जा रहा है।

केन्द्रीय अल्पसंख्यक मामलात के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी दो बार 30 से ज्यादा राज्य वक्फ बोर्ड, मुस्लिम धर्म गुरुओं, इमामों, धार्मिक-सामाजिक संगठनों, मुस्लिम समाज के साथ बैठक कर चुके हैं।

नकवी ने कहा कि कोरोना वायरस की लड़ाई में पूरा देश एकजुट है। रमजान महीने में सभी धर्मगुरु लॉकडाउन, सोशल डिस्टेंसिंग व अन्य दिशा-निर्देशों का सख्ती से पालन करने पर सहमति दे चुके हैं। साथ ही कोरोना से लड़ाई लडऩे में अहम भूमिका निभा रहे डॉक्टर्स, स्वास्थ्य कर्मियों, सुरक्षा बलों, प्रशासनिक अधिकारियों, सफाई कर्मचारियों के सहयोग करने के लिए अपील की जा रही है।

क्वारंटाइन, आइसोलेशन सेंटरों को लेकर फैलाई जा रही अफवाहों से सावधान रहने के लिए जागरूक किया जा रहा है। नकवी ने कहा कि दुनिया के अधिकांश मुस्लिम राष्ट्रों ने भी माहे रमजान में मस्जिदों व अन्य धार्मिक स्थलों पर भीड़ वाली गतिविधियों पर रोक लगा रखी है।

Related posts

કેન્દ્ર સરકારની ખેડૂતોને ભેટ, ડીએપી ખાતર ની સબસીડી માં કયો 140 ટકાનો વધારો.

Rajkotlive News

गुजरात में लोकडाउन के बीच गुजरात में 27800 औद्योगिक इकाइयां शुरू, 1.80 लाख को रोजगार

Rajkotlive News

चलती स्कूल बस से गिरने से 14 वर्षीय मासुम छात्रा की दर्दनाक मौत

Rajkotlive News

Leave a Comment