Breaking NewsGujaratIndiaVadodara

गुजरात के वडोदरा में 40 से ज्यादा मुस्लिम मरीज बनेंगे प्लाज्मा डोनर, कइयों की बचेगी जान

वडोदरा : शहर में कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से फैलने के बाद अब एक-एक कर कई मरीज ठीक हुए है। आज एकसाथ 45 मरीजों को अस्पताल से छुट्टी मिली है। स्वस्थ हुए मरीजों में से 40 से ज्यादा मुस्लिम मरीज अब दुसरो की जान बचाने के लिए आगे आए है। और प्लाज्मा डोनर बनने के लिए तैयार हुए है। इस कारण करीब 100 मरीजों की जान बचाने में मदद मिलेगी।

गुजरात में लगातार बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए केन्द्र सरकार ने हाल ही में प्लाज्मा थेरेपी का इस्तेमाल करने की अनुमति दी है। इस थेरेपी से बेहद गंभीर मरीजों की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाया जाता है। हालांकि कोरोना से स्वस्थ हो चुके मरीज ही प्लाज्मा डोनेट कर सकते है। ऐसे मरीजों की संख्या काफी कम है। और उसमें भी प्लाज्मा देने के लिए बहोत कम लोग तैयार होते है।

स्थानीय मुस्लिम नेता जुबेर गोपलानी के मुताबिक, लगातार दो बार कोरोना जांच में नेगेटिव आने के बाद 44 मुस्लिम मरीजों को छुट्टी मिली है। इन सब मरीजों में बीमारी के लक्षण नहीं थे। और वह इस संक्रमण के शुरुआती दौर में थे। देखरेख और बेहतर खान-पान के बाद इनमे अब संक्रमण नहीं है। साथ ही इनके शरीर में कोरोना से लड़ने वाले एंटीबॉडीज मौजूद है। अब इनमें से 40 से ज्यादा प्लाज्मा देने के लिए तैयार है।

कोविड-19 सेंटर के इंचार्ज विनोद राव ने कहा कि, प्लाज्मा थेरेपी काम कर रही है। इसी कारण हमने स्वस्थ हुए मरीजों को दूसरे साथियों की जान बचाने के लिए प्लाज्मा दान करने की मांग की थी। हमारी इस मांग को 40 से अधिक मरीजों ने मान लिया, और प्लाज्मा देने तैयार हो गए। स्वास्थ्य कर्मियों को इसकी जानकारी दे दी गई है। जल्द ही उनका प्लाज्मा लेने की प्रकिया शुरू होगी।

Related posts

CM केजरीवाल की तबीयत खराब, खुद को किया आइसोलेट, होगा कोरोना टेस्ट

Rajkotlive News

गुजरात सरकार के कैबिनेट मंत्री दंगा फैलाने में दोषी करार कोंग्रेस विधायको समेत 10 की करेंगे मदद

Rajkotlive News

પૂજાપાના વેપારીઓની ભક્તો સાથે છેતરપિંડી

Rajkotlive News