Breaking NewsGujaratRajkotSaurashtra

लोकडाउन के कारण नहीं मिला वाहन, 28 घंटे ठेला चलाकर पत्नी ने लाचार पति को पहुंचाया अस्पताल

राजकोट : पति-पत्नी का संबंध सबसे अनूठा होता है। और दोनों एकदूजे के लिए कुछ भी कर सकते है। इस बात को साबित करनेवाला मामला सामने आया है। जिसमें लोकडाउन के कारण कोई वाहन नहीं मिलने के कारण पत्नी ने लाचार पति को अस्पताल पहुंचाने के 28 घंटे तक ठेला चलाया। और उसे 64 किमी दूर स्थित अस्पताल पहुंचाया।

संवाददाता के मुताबिक, मामला मोरबी शहर का है। जहां पुराने पावर हाउस के करीब पेपर मिल के पास रहनेवाले सुरेश कुमार के पैर में 3 महीने पर कांच घुस गया था। उस समय तो सर्जरी होने के बाद पांव पर प्लास्टर चढ़ाया गया था। और महीने में दो बार उसे राजकोट के सरकारी अस्पताल जाना जरुरी था। पर लॉकडाउन के चलते उसे राजकोट जाने के लिए कोई वाहन नहीं मिला।

हालांकि कुछ रिक्शे वाले उसे वहां पहुंचाने के लिए तैयार तो हुए। लेकिन वह दो-तीन हजार रुपए मांगते थे। जहां एक समय के खाने के लाले हों, वहां इतने रुपए कैसे दिए जा सकते हैं? आखिरकार पत्नी मुन्नी ने पेपर मिल के पास रहने वाले एक सब्जी वाले से उसका ठेला मांगा था। और पति को ठेले में बिठाकर सुबह 8 बजे राजकोट की तरफ निकल पड़ी। दूसरे दिन दोपहर 12.30 बजे वह सरकारी अस्पताल भी पहुंच गई। और पति का इलाज शुरू करवाया है।

Related posts

સુરતમાં છેલ્લા 7 દિવસના 35 કેસમાંથી 18 વેક્સિનેટેડ, 11એ રસી લીધી જ નથી, 18 વર્ષથી નીચેના 5ને પણ કોરોના

Rajkotlive News

એસ.ટી નિગમના મૃતક કર્મચારીઓના વારસદારોનું નોકરીની માંગ સાથે વિરોધ પ્રદર્શન, 15 સપ્ટેમ્બર સુધીનું અલ્ટીમેટમ આપ્યું

Rajkotlive News

भारतीय क्रिकेट टीम की सबसे बड़ी फैन चारुलता पटेल का निधन

Rajkotlive News