Breaking News Gujarat

500 कीमी दूर बनासकांठा में हुई मां की मौत, 24 घंटे में अंत्येष्टि निपटाकर ड्यूटी में जुटे वलसाड कलेक्टर

वलसाड : देश के साथ गुजरात में भी कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। लेकिन इस मुश्किल समय में कई लोग घर-परिवार को भूलकर अपना फर्ज निभाने में जुटे है। ऐसी ही एक घटना सामने आई है। जिसमें 500 किमी दूर बनासकांठा में मां की मौत होने पर 24 घंटे में अंत्येष्टि निपटाकर वलसाड के कलेक्टर अपनी ड्यूटी पर पहुंच गए है।

संवाददाता के मुताबिक, वलसाड कलेक्टर सी. आर. खरसाण मां रेवाबेन के साथ ही रहते थे। लेकिन एक शादी समारोह में शामिल होने के लिए उनकी मां 500 कीमी दूर बनासकांठा गई थी। इस दौरान लॉकडाउन की घोषणा होने पर उन्हें वहीं रुकना पड़ा। इस दौरान उनकी तबीयत बिगड़ी और उनका देहांत हो गया।

मां के देहांत की खबर मिलते ही कलेक्टर खरसाण तुरंत वहां पहुंचे। और अपनी मां की अंत्येष्टि कर बेटे होने का फर्ज निभाया। बादमें तुरंत ही वहां से निकल कर सिर्फ 24 घंटे के भीतर वलसाड आकर अपनी ड्यूटी संभाल ली। इस संबंध में उन्होंने कहा कि, मेरी मां तो चली गई है। लेकिन यहां रहकर में दूसरे कई लोगों की मां और परिजनों को बचाने में मददगार बन सकता हूं।

बतादे कि, राज्य में कोरोना का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। और संक्रमितों की संख्या 1100 के पार पहुंच गई है। ऐसेमें सरकारी अधिकारी समेत पुलिस, डोक्टर और मीडियाकर्मी भी अपनी जान जोखिम में डालकर अपना फर्ज निभाने में जुटे है। और हरकोई किसी भी प्रकार कोरोना को मात देने की कोशिश कर रहा है। ऐसे में वलसाड कलेक्टर ki इस कर्तव्यनिष्ठा की लोग जमकर सराहना कर रहे है।

Related posts

पिता-पुत्री का रिश्ता शर्मसार, सौतेले पिता ने 11 वर्ष की बेटी से की ज्यादती, माता ने दर्ज की शिकायत

Rajkotlive News

*Delhi Election Results: विदेशी मीडिया ने बीजेपी की हार का जिम्मेदार पीएम नरेंद्र मोदी को ठहराया, कहा भारत को हिंदू राष्ट्र बनाने के चक्कर में हारी पार्टी

Rajkotlive News

ત્વચા માટે ખુબ ફાયદાકારક છે કાચું દૂધ, આ રીતે કરો પ્રયોગ દૂધના અનેક ફાયદા, આયુર્વેદમાં પણ દૂધ ના ગુણો નો ઉલ્લેખ.

Rajkotlive News