Ahmedabad Breaking News Gujarat

गुजरात से अच्छी खबर : 2 साल की मासुम और 92 वर्षीय वृद्ध समेत 6 ने कोरोना को हराया

अहमदाबाद : शहर में कोरोना के बढ़ते कहर के बीच अच्छी खबर सामने आई है। जिसमें पिछले महीनेभर में दो साल की मासुम और 92 वर्षीय वृद्ध समेत छह लोगोंने कोरोना को हराया होने की जानकारी सामने आई है। आमतौर पर वृद्ध और बच्चों पर कोरोना का प्रभाव ज्यादा होने की बात कही जाती है। लेकिन यहां वृद्ध और मासुम ने कोरोना को मात देकर इस बातको गलत साबित कर दिया है।

अहमदाबाद में एकतरफ संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ रही है। इसी बीच शहर के 92 वर्षीय वृद्ध और दो साल की मासूम ने कोरोना से जंग जीत ली है। इसके अलावा एक 8 साल का बालक, 31 वर्ष की युवती, समेत 45 और 49 साल के व्यक्ति ने भी कोरोना को हराया है। और सभी को शहर के एसवीपी अस्पताल से छुट्टी भी दे दी गई है। अभी तक शहर में कुल 23 लोग स्वस्थ हो चुके हैं।

थलतेज क्षेत्र के 92 साल के वृद्ध ने अपनी हिम्मत से कोरोना को हरा दिया। तो वटवा में रहनेवाली दो साल की मासूम को 8 दिन पहले अस्पताल में भर्ती किया गया था। उस समय उसकी मां गर्भवती होने के कारण वहां उसके पिता को साथ रखा गया था।

बच्ची के पिता आरिफ मंसूरी ने बताया कि, मेरी दो साल की बेटी को जब बुखार आया, तब उसे तुरंत अस्पताल ले गया। उसमें कोरोना के लक्षण दिखाई दिए। उसका सेम्पल लिया गया, फिर उसे एसवीपी अस्पताल में भर्ती कर दिया गया। यहां मेरी बेटी के लिए डॉक्टर्स फरिश्ते बनकर आए। और मेरी बेटी की जान बचा ली।

अस्पताल में बेटी के साथ रहने के कारण मैं संक्रमित न हो जाऊं, इसलिए अस्पताल में मुझे एक खास किट, मास्क दिए गए थे। मुझे हर तरह की सावधानी बरतने के निर्देश दिए गए थे। मैं अपनी बेटी से एक मीटर की दूरी पर लगातार 8 दिनों तक बैठा रहा। वहां मेरी बेटी की 24 घंटे देखभाल होती थी। जिसके लिए मैं सभी डॉक्टर्स और अस्पताल के स्टाफ का शुक्रिया अदा करता हूं।

Related posts

*राम मंदिर निर्माण में ‘आधार कार्ड’ बना रोड़ा, रामलला का हो रहा लाखों का नुकसान*

Rajkotlive News

1 जून 2020 से लागू होगी एक देश एक राशन कार्ड स्‍कीम, प्रवासी कामगारों को होगा फायदा

Rajkotlive News

मैत्री करार के बाद 28 लाख ऐंठकर युवति करने लगी ब्लैकमेल, वृद्ध ने की खुदकुशी

Rajkotlive News