Breaking NewsGujaratRajkotSaurashtra

महिला एएसआई थानेमें ही कराती है बेटे को फीडिंग, हर तीसरे घंटे मासुम को लेकर आते है पति

 

राजकोट : कोरोना का कहर प्रतिदिन बढ़ रहा है। ऐसे में पुलिस, डॉक्टर, नर्स और मीडियाकर्मी सभी राष्ट्र के सेवक बनकर अपनी जिम्मेदारी बखूबी निभा रहे हैं। लेकिन महिला पुलिस थाने की एएसआई कुछ अलग ही है। क्योंकि वह अपने एक साल के बेटे को थाने में ही फीडिंग कराती हैं। उनका कहना है कि मैं यदि कुछ घंटों के लिए छुट्टी लेती हूं, तो मेरे साथियों पर काम का बोझ बढ़ जाएगा। इसी कारण मेरे पति हर तीसरे घंटे बेटे को लेकर आते है। और में यहीं उसे फीडिंग करा लेती हूं।

राजकोट के महिला थाने में तैनात एएसआई रेखाबेन रमेशभाई सावलिया की ड्यूटी 12 घंटे की है। लेकिन सालभर का बच्चा होने के कारण तीन-चार घंटे में उसे फीडिंग करवाना जरुरी है। ऐसेमें निजी कंपनी में काम करनेवाले पति रमेशभाई ने कहा कि, इस समय देश को इस वक्त तुम्हारी जरूरत है, बेटे को मैं देख लूंगा। जब बेटे को भूख लगेगी, तो मैं उसे लेकर थाने पहुंच जाऊंगा। थाने में पहुंचते ही बाप-बेटे को सेनेटाइज किया जाता है।

लोकडाउन घोषित होने के बादसे रमेशभाई हर तीसरे घंटे बेटे को लेकर थाने आते हैं। और रेखाबेन यहीं पे बेटे को फीडिंग कराती हैं। उसके लिए थाने में ही झूला भी रखा है, जब वह बहुत रोता है, तो उसे झूले पर सुला दिया जाता है। रेखाबेन थाने में अर्जी निवारण शाखा में काम करती हैं। जिसमें कई लोगो के आवेदनों को हाथ लगाना होता है, ऐसे में बच्चे की फीडिंग का ध्यान रखते हुए वे बार-बार खुद को सेनेटाइज करती रहती है। और हाथों में सेनेटाइजर लगाकर ही रेखाबेन बच्चे को स्पर्श करती हैं।

Related posts

गुजरात में 15 से 21 अप्रैल तक इन क्षेत्रों में कर्फ्यू घोषित

Rajkotlive News

રાજકોટ મહાનગરપાલિકા દ્વારા સરકાર માન્ય સંસ્થા “માઇક્રોવેવ કોમ્પયુટર્સ” અને લાયન્સ ક્લબ ઓફ રાજકોટ આવકારના સહયોગથી સેનેટરી પેડ વિતરણ કાર્યક્રમ યોજાયો

Rajkotlive News

તાજેતરમાં 5 રાજ્યોમાં યોજાયેલ ચૂંટણીમાં પંજાબમાં જંગી બહુમતીથી ‘આપ’ની સરકાર બનતા તેની ઉજવણીના ભાગ રૂપે આજે રાજકોટમાં આમ આદમી પાર્ટી દ્વારા આજરોજ વિજય તિરંગા યાત્રાનું આયોજન કરવામાં આવ્યું હતું….

Rajkotlive News