Breaking NewsGujaratSurat

गुजरात के सूरत में सड़कों पर निकले 700 से ज्यादा मजदूर, खाने को लेकर की शिकायत

 

सूरत : शहर में लगातार दूसरे दिन बुधवार को प्रवासी मजदूर लॉकडाउन का उल्लंघन कर बाहर सड़कों पर निकल आए। पुलिस ने बताया कि खाने की शिकायत को लेकर ये लोग बाहर निकले। एसीपी डीजे चावडा ने बताया कि करीब 700 से ज्यादा प्रवासी मजदूर शाम करीब चार बजे पंडोल के वेद रोड पर इकट्ठा हो गए। इनकी शिकायत बहुत ही छोटी सी थी कि उनके लिए जो खाने की व्यवस्था की गई है, वह सही नहीं है।

देश में लॉकडाउन की वजह से यूपी, बिहार और ओडिशा से आए हजारों मजदूर यहां फंसे हुए हैं। ये मजदूर यहां की फैक्टरियों में काम करते हैं। कई एनजीओ की मदद से प्रशासन ने इनके लिए खाने की व्यवस्था की हुई है। एसीपी चावडाने कहा कि, मजदूरों के एक समूह की मांग थी कि उनके घरों के पास खाना मुहैया कराया जाए। जबकि दूसरा अपने घर के पास यह सेवा चाहता है।इनकी यह भी शिकायत है कि जो खाना उन्हें दिया जा रहा है, उसमें स्वाद नहीं है। अच्छी बात यह है कि पुलिस ने इस मुद्दे को समय पर सुलझा लिया, और मजदूरों को वापस भेज दिया।

 

बतादे कि, मंगलवार को भी सूरत के वराछा क्षेत्र में भी सैकड़ों मजदूर एकत्र हो गए। ये मजदूर उन्हें उनके घर भेजने की मांग कर रहे थे। ये मजदूर सड़क पर बैठकर अपने वतन जाने की अनुमति देने की मांग करने लगे थे। इससे पहले महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में बांद्रा स्टेशन पर हजारों की संख्या में प्रवासी मजदूरों की भीड़ घर जाने के लिए इकट्ठा हो गई थी। और वतन में वापिस लौटने की मांग कर रहे थे।

Related posts

पश्चिम रेलवे का नया कीर्तिमान, पालनपुर से बोटाद विद्युतीकृत पथ पर पहली ट्रेन का सफल परिचालन

Rajkotlive News

ઉનાળામા ખાવ આ ૯ વસ્તુઓ, શરીરમા ક્યારેય નહી સર્જાય પાણી ની અછત.

Rajkotlive News

गुजरात में शराब बंदी के बीच राजकोट पुलिस ने 5.5 करोड़ की शराब को किया डिस्ट्रॉय

Rajkotlive News