Breaking NewsGujaratRajkotSaurashtra

एम्ब्युलेंस नहीं मिली तो बीमार बेटे को लारी में लेकर दो किमी दूर अस्पताल पहुंची मां

राजकोट : कोरोना के कारण चल रहे लोकडाउन में सबसे ज्यादा मुश्किलें गरीबों को उठानी पड़ रही है। ऐसेमें जब घर का कोई व्यक्ति बीमार हो तो, उसको अस्पताल पहुंचाना भी मुश्किल हो जाता है। जेतपुर शहर में भी मानवता को शर्मसार करनेवाला ऐसा ही किस्सा सामने आया है। जिसमें एम्ब्युलेंस नहीं मिलने के कारण एक मां ने बीमार बेटे को लारी में रखा था। और भारी गर्मी के बावजूद दो किमी दूर अस्पताल पहुंची थी।प्राप्त जानकारी के मुताबिक, तीन महीने पहले बेटे का एक्सीडेंट हुआ था। जिसमें गंभीर चोट लगने के कारण उसका ऑपरेशन किया गया था। लेकिन किसी वजह से अचानक बेटे का दर्द बढ़ गया। जिसके चलते मां ने एम्बुलेंस को कॉल किया था। लेकिन वहां पर एक ही एम्ब्युलेंस है। जो जुनागढ गई होने की बात बताई गई थी। लोकडाउन के कारण दूसरा कोई वाहन मिलना भी संभव नहीं था।इस प्रकार प्रशासन की लापरवाही के कारण एम्ब्युलेंस नहीं मिलने पर शहर के गायत्री मंदिर रॉड से अस्पताल यानि की दो किलोमीटर तक मां ने अपने बेटे को लारी में रखकर अस्पताल पहुंचाया। हालांकि वहां पे मौजूद डॉक्टर्स द्वारा उसको जुनागढ रिफर किया गया। अब मां ना तो लारी में बेटे को वहां पहुंचा सकती है, ना ही उसके पास किराया देने के पैसे है। बहरहाल प्रशासन द्वारा इस मां-बेटे को जुनागढ भेजने की कार्रवाई की जा रही है।

Related posts

ठोकर से घायल बाइक सवार को बचाने के बजाय टेम्पो चढ़ाकर निर्दय चालक फरार, देखे सीसीटीवी

Rajkotlive News

कुमारस्वामी के लिए पूर्व बीजेपी विधायक का विवादित निवेदन कहा- अगर 100 बार नहाएंगे तो भी भैंस ही दिखेंगे

Rajkotlive News

*સનસ્ટ્રોકથી થતી વિપરીત અસરો અને તેનાથી બચવા માટે જાહેર આરોગ્ય વિભાગની માર્ગદર્શિકા*

Rajkotlive News

Leave a Comment