Uncategorized

लॉकडाउन तोडऩे वालों पर रहेगी ‘प्रहरी’ की नजर-डीजीपी, अहमदाबाद, सूरत और वडोदरा में तैनात होंगे अद्र्धसैनिक बल

गांधीनगर. गुजरात के पुलिस महानिदेशक शिवानंद झा ने कहा कि कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए लॉकडाउन के दौरान अहमदाबाद, सूरत और वडोदरा जैसे शहरों में केन्द्रीय अद्र्धसैनिक बलों की पांच टीमें तैनात की जाएंगी। जहां सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) और केन्द्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) की दो-दो टीमें तैनात होंगी। वहीं केन्द्रीय आरक्षी सुरक्षा बल (सीआरपीएफ) महिला बटालियन की एक टीम तैनात की जाएगी।

अहमदाबाद में दो, सूरत में दो और वडोदरा में एक टीम तैनात होगी। वहीं रेपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ) की चार कम्पनियां पहले से ही तैनात हैं। इसका मकसद लॉकडाउन की सख्ती से पालन कराना है।

हेड कांस्टेबल भी लौटा सकेंगे वाहन

लॉकडाउन का उल्लंघन करने वाले या मोटर वाहन अधिनियम के तहत प्रावधानों से पुलिस की ओर से जो वाहन जब्त किए हैं उनको छोडऩे की प्रक्रिया प्रारंभ की गई है। इसके लिए वाहन मालिकों को आरटीओ नहीं जाना पड़ेगा। साथ ही सोशल डिस्टेसिंग भी बनाए रखने के लिए लॉकडाउन के दौरान जब्त वाहन समाधान शुल्क लेकर वाहन मालिकों को लौटाने का राज्य सरकार ने निर्णय किया है। इन वाहनों को लौटाने की जिम्मेदारी हेड कांस्टेबल या उससे वरिष्ठ अधिकारी को सौंपी गई

Related posts

24 सितम्बर की महत्वपूर्ण घटनाएं

Rajkotlive News

हैदराबाद मर्डर: मदद का भरोसा देकर किया किडनैप, 4 लोगों ने किया गैंगरेप

Rajkotlive News

नशे के लिए आएदिन रुपयों की मांग कर झगड़ता था बेटा, पिता ने लोहे के सरिये से ले ली जान

Rajkotlive News

Leave a Comment