Breaking NewsWorld

दुनिया का अकेला देश जो मानता ही नहीं कि कोरोना वायरस कोई बीमारी है

कोरोना वायरस का कहर पूरी दुनिया में देखने को मिल रहा है। शक्तिशाली देश भी इस संक्रमण के आगे बेबस हैं लेकिन एक देश ऐसा भी है जिसका कहना है कि ऐसी कोई बीमारी है ही नहीं। यहां तक कि उसने अपने देश में कोरोना शब्द के इस्तेमाल पर ही बैन लगा दिया है। हैरानी की बात तो यह है कि इस देश से सटे ईरान में कोरोना ने भयावह मंजर खड़ा किया है।

हम बात कर रहे हैं तुर्कमेनिस्तान की जिसने कोरोना शब्द लिखने और बोलने पर बैन लगाने के साथ ही मास्क पहनने पर भी कार्रवाई करने का आदेश जारी किया है। खबरों की मानें तो ये बैन किसी और ने नहीं बल्कि राष्ट्रपति गुरबांगुली बेयरडेमुकामेडॉव ने लगाया है। यही नहीं जनता के बीच स्पेशल एजेंट्स घूम रहे हैं जो अगर किसी से कोरोना की चर्चा सुनते हैं तो उन्हें जेल भेज देते हैं।

आधिकारिक रूप से अबतक इस देश में एक भी कोरोना केस सामने नहीं आया है। ये बात विशेषज्ञों को भी हजम नहीं हो रही है। उनका मानना है कि तुर्कमेनिस्तान अपने आंकड़े को छिपा रहा है। इस देश ने करीब एक महीने पहले ही अपने देश के बार्डर सील कर दिए थे। वहीं चीन सहित बाकी देशों से आने वाले विमानों के रास्तों को डायवर्ट कर दिया गया था।

बर्थ डे हो या शादी लोग भारी संख्या में पहुंच रहे
तुर्कमेनिस्‍तान में लोगों की थर्मल स्क्रीनिंग भी की जा रही है। लेकिन, इसके बावजूद भी बाकी देशों के अलावा वहां जनजीवन बहुत सामान्य है। लोग भारी संख्या में पब्लिक गैदरिंग में जुट रहे हैं। बर्थ डे हो या शादी लोग भारी संख्या में पहुंच रहे हैं। हालांकि ये पहले मौका नहीं है जब तुर्कमेनिस्तान ने इस तरह के आंकड़े छिपाए हों। इस देश ने कई बीमारियों को लेकर आंकड़े छिपाए हैं जिसमें एड्स और प्लेग भी शामिल हैं। वहीं, प्रेस स्वतंत्रता के मामले में भी ये देश 180 देशों की सूची में सबसे आखिरी स्थान पर है।

Related posts

મોંઘવારીનો માર : પેટ્રોલ-ડિઝલ પછી હવે CNGના ભાવમાં 2 રૂપિયાનો વધારો

Rajkotlive News

પાકિસ્તાન – અફઘાનિસ્તાન બોર્ડર પર હથિયારોનું ‘બુશ બજાર’ ફરી શરૂ

Rajkotlive News

IAFએ હમાસના મિલિટ્રી કમ્પાઉન્ડમાં બોમ્બ ફેંક્યા, બલૂન અટેકના જવાબમાં એક્શન

Rajkotlive News

Leave a Comment