Breaking NewsGujaratRajkotSaurashtra

कोरोना मरीजों के इलाज के लिए राजकोट रेल मंडल में 20 कोच बनेंगे आइसोलेशन वार्ड

कोरोना मरीजों के इलाज के लिए राजकोट रेल मंडल में 20 कोच बनेंगे आइसोलेशन वार्ड

राजकोट : कोरोना (कोविड-19) के खतरे से निपटने की तैयारी के मद्देनजर रेलवे ने पीड़ितों के इलाज के लिए ट्रेन के कोचों को आइसोलेशन वार्ड में परिवर्तित करने का निर्णय लिया है। इसी क्रम में पश्चिम रेलवे के राजकोट मंडल ने 20 साल से अधिक पुराने नॉन एसी कोच को आइसोलेशन वार्ड में बदलने की तैयारी शुरू कर दी है।

राजकोट मंडल में ट्रेनों के 20 नॉन एसी डिब्बों को आइसोलेशन वार्ड में बदलने का कार्य ओखा, हापा और राजकोट के कोचिंग डिपो में यांत्रिक विभाग द्वारा शुरू कर दिया गया है। इसके लिए मिडल बर्थ को निकालकर कोच के हर कंपार्ट्मेंट को अस्पताल के प्राइवेट रूम की तरह बनाया जाएगा। डॉक्टर के दिशा निर्देशों अनुसार कोच में जरूरी बदलाव किए जा रहे हैं। इसमें चिकित्सा के उपकरण लगाए जाएंगे।

कोच के एक टॉइलेट को बाथरूम में परिवर्तित किया जाएगा। बाथरूम के अंदर बाल्टी, मग और पटिये रखे जाएंगे। खिड़कियों में मच्छर से बचाव के लिए मच्छरदानी लगायी जाएगी। और संक्रमण रोकने के लिए प्लास्टिक के पर्दे लगेंगे। प्रत्येक कोच में 6 से 7 मरीज़ों का इलाज हो सकेगा। राजकोट मंडल में कोच को आइसोलेशन वार्ड में बदलने के कार्य प्रगति पर है तथा रेल कर्मियों द्वारा इस कार्य को शीघ्र ही पूरा करने के भरपूर प्रयास किए जा रहे हैं।

Related posts

निजामुद्दीन मरकज मामले में प्रिंसिपल ने की मोदी पर आपत्तिजनक टिप्पणी, गिरफ्तार

Rajkotlive News

नोएडा में अस्पतालों के चक्कर लगाती रही गर्भवती, नहीं किया एडमिट, एंबुलेंस में मौत

Rajkotlive News

કોરોના સંકટઃ કોવિશીલ્ડના બે ડોઝ વચ્ચે 12-16 સપ્તાહનું અંતર, સરકારે સ્વિકારી ભલામણ..

Rajkotlive News