Breaking NewsGujaratSuratViral

मुझे कोरोना है… बोलकर मानसिक रोगीने डॉक्टर,नर्स को दौड़ाया, वीडियो वायरल

सूरत : डिंडोली में स्थित अंबिका पार्क में पालिका की मेडिकल टीम डोर-टू-डोर सर्वे कर रही थी। तभी एक हाइवॉल्टेज ड्रामा शुरू हो गया। एक युवक ने आकर कहा कि मुझे कोरोना है और फिर मेडिकल टीम पर हमला कर कर्मचारियों को दौड़ाया। युवक को सिविल में ले जाकर मानसिक बीमारी का निदान किया गया। युवक का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है। और खुलेआम लोग इसी तरह मर रहे होने का मैसेज घूमने लगा। हालांकि सही बात यह है कि, युवक ने मानसिक तनाव के कारण ऐसा व्यवहार किया था।

वीडियो में स्पष्ट रुपसे देखा जा सकेता है कि,डिंडोली गांव में कोरोना संदिग्ध युवक तड़प रहा है। वहां तैनात पुलिस और स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों द्वारा युवक को प्राइवेट एंबुलेंस से इलाज के लिए सिविल में रवाना किया गया। पर सिविल में ओपीडी के बाहर एबुंलेंस के पहुंचते ही हड़कंप मच गया। कोरोना मरीज आने की खबर मिलते ही सिविल में कोहराम मच गया। उसे एंबुलेंस से वार्ड तक ले जाने के लिए सिविल का एक भी कर्मचारी वहां नहीं आया। ओपीडी में डॉक्टर और नर्स भी कतराने लगे। अाखिर में एंबुलेंस का ड्राइवर ट्रॉमा से स्ट्रेचर लेकर आया। और इस युवक को दूसरी मंजिल पर स्थित वार्ड में पहुंचाया था।

सिविल के सीनियर सीएमओ चौधरी ने बताया कि, आइसोलेशन वार्ड के बाहर ही युवक की जांच की गई। युवक की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है। इसलिए उसे ट्रॉमा सेंटर में भेज दिया गया। युवक की हालत स्थिर बनी हुई है। कोरोना के कारण लोगों की जान जा रही होने की बात अफवाह से ज्यादा कुछ नहीं है। अब ओपीडी के पास एक सर्वेंट को स्ट्रक्चर के साथ तैयार रखा जाएगा ताकि इमरजेंसी में आनेवाले मरीजों को कोई परेशानी न हो।
#corona #mental petiont #rush in hospital #cmo #surat #dindol

Related posts

गुजरात : सीएम रूपाणी से मिले भाजपा सांसद समेत चार हुए होम क्वोरंटाईन

Rajkotlive News

પહેલીવાર ડુમસ ઓવારે વિસર્જન બંધ, કાદી ફળિયાનું કૃત્રિમ તળાવ એકમાત્ર વિકલ્પ રહેશે

Rajkotlive News

ગુજરાતમાં ધોરણ 12 વિજ્ઞાન પ્રવાહની પરીક્ષા અંગે 15મી મેએ નિર્ણય લેવાશે.

Rajkotlive News