Breaking NewsGujaratSurat

गुजरात के लॉकअप में एक और मौत, परिजन बोले – पीटा, पुलिस ने कहा- मिर्गी से मरा

गुजरात के लॉकअप में एक और मौत, परिजन बोले – पीटा, पुलिस ने कहा- मिर्गी से मरा

सूरत : शहर में लॉकअप में मौत की एक और घटना सामने आई है। वराछा थाने में 49 वर्षीय एक व्यक्ति की मौत हो गई। जुआ-शराब का अड्‌डा चलाने के आरोप में पुलिस उसे घर से पकड़कर थाने लाई थी। और सीआरपीसी 151 के तहत मामला दर्ज किया था। कल दोपहर आरोपी अचानक लॉकअप में गिर गया और उसकी मौत हो गई। परिजनों का आरोप है कि पुलिस की पिटाई से उसकी मौत हुई है। तो पुलिस के मुताबिक, मिर्गी का दौरा पड़ने से उसकी मौत हुई है।

एसीपी सी. के. पटेल ने के अनुसार वराछा के अश्विनी कुमार रॉड स्थित रिवर व्यू एपार्टमेंट के निवासी दीपक विनोदभाई मोदी को पूछताछ के लिए डी-स्टाफ द्वारा थाने लाया गया था। उसके ऊपर जुए का अड्डा चलाने का आरोप होने के कारण सीआरपीसी 151 के तहत मामला दर्ज किया गया था। दोपहर डेढ़ बजे ही दीपक को अचानक मिर्गी का दौरा पड़ गया। और उसे इलाज के लिए स्मीमेर अस्पताल भेजा गया। लेकिन उपचार मिलने से पहले ही उसकी मौत हो गई।

इधर मृतक दीपक की पत्नी निशा ने कहा कि, हमारा परिवार खमण बेचने का काम करता है। कल दोपहर उसका पति दीपक ठेले पर था। तभी वराछा थाने के पुलिसकर्मी ऑटो में आए और जुआ खेलते हो, ऐसा कहकर उसे जबर्दस्ती पकड़कर थाने ले गए। दीपक एक पैर से लंगड़ाता था। पुलिस के थाने ले जाने के कुछ ही समय में उसकी मौत हो गई। उसे मिर्गी क्या कोई भी बीमारी नहीं थी। पुलिस सरासर झूठ बोल अपनी करतूत पर पर्दा डालने का प्रयास कर रही है। असल में पुलिस की पिटाई से दीपक की मौत हुई है।

 

बतादे कि, शहर में पिछले 10 महीने में यह तीसरा मामला है, जिसमें थाने में आरोपी की मौत हो गई है।
1 जून 2019-खटोदरा पुलिस थाने में ओमप्रकाश पांडे को चोरी के आरोप में डी-स्टाफ ने लॉकअप में बंद करके पीटा था। इसी कारण उसकी मौत हो गई थी। जिसमें इंस्पेक्टर समेत आठ पुलिसकर्मीयों के खिलाफ मामला दर्ज हुआ था। 11 मार्च को पांडेसरा पुलिस थाने में 25 वर्षीय विमल यादव की लॉकअप में मौत हो गई थी। उसे दमे की बीमारी थी, जानबूझकर पुलिस द्वारा उसका इलाज नहीं करवाने का आरोप भी लगा था। इस मामले में अभीतक पुलिस के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई है। ऐसेमें और एक ऐसा मामला सामने आने पर पुलिस की कार्रवाई पर कई सवाल भी उठने लगे है।

Related posts

देश में आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति के लिए पार्सल स्पेशल ट्रेनों का होगा परिचालन

Rajkotlive News

आएदिन काम करने के लिए कहती थी मां, गुस्साए बेटे ने मौत के घाट उतार दिया

Rajkotlive News

રાજકોટ શહેરના મુખ્યમાર્ગો પર 80 ટકા ખાડા બૂરી દીધા!

Rajkotlive News