Breaking News Gujarat Rajkot

कोरोना वायरस के संक्रमण के विरुद्ध राजकोट रेल मंडल ने उठाये विभिन्न कारगर कदम

कोरोना वायरस के संक्रमण के विरुद्ध राजकोट रेल मंडल ने उठाये विभिन्न कारगर कदम

tu

भारतीय रेलवे द्वारा कोरोना वायरस COVID 19 के संक्रमण को रोकने के लिए कई प्रभावी कदम उठाये जा रहे हैं। इसी क्रम में पश्चिम रेलवे के राजकोट मंडल द्वारा भी इस खतरनाक बीमारी को फैलने से रोकने के लिए हरसम्भव ठोस कदम उठाये जा रहे हैं:

1) राजकोट मंडल के राजकोट एवं हापा स्थित रेलवे अस्पतालों में कुल 14 बेड चिन्हित किए गये हैं जिनहे आइसोलेशन वॉर्ड बनाया गया है। इसके अलावा इस बीमारी के संदेहजनक मामलों के लिए 20 बिस्तरों का राजकोट में तथा 10 बिस्तरों का हापा में डेडिकेटेड वॉर्ड भी अलग से बनाया गया है।

2) राजकोट, ओखा, द्वारका, हापा, जामनगर, सुरेन्द्रनगर, मोरबी व वांकानेर स्टेशन के लिए नोडल मेडिकल ऑफिसर नियुक्त किए गये हैं तथा इनके मोबाइल नंबर भी जारी किए गये हैं।

3) आइसोलेशन वॉर्ड की देखरेख कर रहे डॉक्टरों तथा कर्मियों को संक्रमण से रोकथाम के लिए प्रोटेक्शन के सामान, मास्क तथा दस्ताने सहित पर्याप्त मात्रा में सैनिटाइज़र उपलब्ध कराये गये हैं।

4) अस्पताल के कर्मियों को इस तरह के मामलों को किस तरह से डील किया जाये, इस विषय में प्रशिक्षित किया गया है।

5) कोरोना के बारे में जागरूकता के लिए सभी स्टेशन परिसरों के प्रमुख स्थानों तथा ट्रेनों में इस बीमारी की रोकथाम के लिए ‘क्या करें’ और ‘क्या न करें’ सम्बंधी पोस्टर लगाये गये हैं।

6) यात्री उद्घोषणा प्रणाली में माध्यम से रेलवे स्टेशनों पर हर 15 मिनट में ऑडियो क्लिप क्लिप चलाई जा रही है।

7) स्वास्थ्य निरीक्षकों द्वारा रेलवे कॉलोनियों, ऑफिसों तथा स्टेशनों पर लोगों में इसके प्रति संदेह को रोककर उनके मन में इस बीमारी के प्रति डर मिटाने के लिए लोगों को जागरूक किया जा रहा है।

8) प्रत्येक रेलवे कॉलोनी, स्टेशनों, हेल्थ यूनिटों, लॉबियों और अस्पतालों में वायरस की रोकथाम के लिए व्यक्तिगत साफ-सफाई बरतने के लिए व्याख्यानों का आयोजन किया जा रहा है।

9) Lysol 2% का उपयोग करते हुए मैंटेनेंस डेपो में कोचों की पूरी सफाई की जा रही है।

10) टिकिट चेकिंग स्टाफ को भी ट्रेन में यात्रा कर रहे संदेहास्पद बीमार यात्रियों की सूचना तुरंत मेडिकल विभाग को देकर उनकी जांच करवाने के निर्देश दिये गये हैं।

11) संदेहजनक मामलों के परीक्षण, एडमिशन, आगे का उपचार और उन्हें अलग वॉर्ड में रखने से सम्बंधी मामलों में सभी सम्बंधित लोगें में बेहतर समन्वय के लिए रेलवे के सभी नोडल अधिकारियों तथा प्रमुख स्टेशनों के राज्य प्रतिनिधियों की लिस्ट को सर्कुलेट किया गया है।

Related posts

દેશમાં ઉત્તરાખંડથી કર્ણાટક સુધી 7 એવા પિતૃ તીર્થ છે જ્યાં શ્રાદ્ધ કરવાથી પિતૃઓ સંતુષ્ટ થાય છે

Rajkotlive News

गुजरात : पूर्व विधायक और भाजपा नेता के बेटे की अमरीका में कोरोना से मौत, परिजन सुन्न

Rajkotlive News

રાશિફળ : 16/09/2021

Rajkotlive News