AhmedabadBreaking NewsGujarat

कोरोना से बचने के लिए अहमदाबाद मनपा आयुक्त ने शुरु किया ‘नमस्ते’ अभियान अहमदाबाद : गुजरात के पड़ोसी राज्य राजस्थान समेत देश में कोरोना वायरस संक्रमण के कुछ मामले सामने आने के बाद राज्य की सर्वाधिक आबादी वाले शहर अहमदाबाद के मनपा आयुक्त विजय नेहरा ने नमस्ते अभियान शुरू किया है। और शहर के लोगों से अभिवादन के लिए पारंपरिक भारतीय पद्धति यानी दोनों हाथ जोड़कर नमस्ते कहने की सलाह दी है। नेहरा ने आज पत्रकारों से कहा कि हाथ मिलाने यानी हैंड शेक से बचें और ‘नमस्ते’ कहें। क्योंकि यह कोरोना वायरस से बचने का एक सबसे आसान और प्रभावी तरीका है। उन्होंने इस संबंध में अपने ट्‍वीट संदेश में कहा कि, ‘नमस्ते अहमदाबाद, अब जब हम कोरोना वायरस यानी सीओवीआईडी 19 से निपटने के लिए तैयार हो रहे हैं तो एक सबसे आसान और बहुत ही प्रभावी तरीका है कि हम हाथ मिलाने यानी हैंड शेक को ना कहे और नमस्ते का अपनाएं। नेहरा ने कोरोना वायरस संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए सभी से इस संदेश को अधिक से अधिक प्रसारित करने का आग्रह भी किया। ज्ञातव्य है कि गुजरात में अब तक कोरोना प्रभावित चीन और अन्य देशों से एक हजार से अधिक लोग लौट चुके है। पर राज्य में अब तक इसका एक भी पॉजिटिव केस नहीं आया है। बावजूद इसके कोरोना से निपटने के लिए राज्यभर में व्यापक तैयारियां की गई हैं। 

कोरोना से बचने के लिए अहमदाबाद मनपा आयुक्त ने शुरु किया ‘नमस्ते’ अभियान

अहमदाबाद : गुजरात के पड़ोसी राज्य राजस्थान समेत देश में कोरोना वायरस संक्रमण के कुछ मामले सामने आने के बाद राज्य की सर्वाधिक आबादी वाले शहर अहमदाबाद के मनपा आयुक्त विजय नेहरा ने नमस्ते अभियान शुरू किया है। और शहर के लोगों से अभिवादन के लिए पारंपरिक भारतीय पद्धति यानी दोनों हाथ जोड़कर नमस्ते कहने की सलाह दी है।

नेहरा ने आज पत्रकारों से कहा कि हाथ मिलाने यानी हैंड शेक से बचें और ‘नमस्ते’ कहें। क्योंकि यह कोरोना वायरस से बचने का एक सबसे आसान और प्रभावी तरीका है। उन्होंने इस संबंध में अपने ट्‍वीट संदेश में कहा कि, ‘नमस्ते अहमदाबाद, अब जब हम कोरोना वायरस यानी सीओवीआईडी 19 से निपटने के लिए तैयार हो रहे हैं तो एक सबसे आसान और बहुत ही प्रभावी तरीका है कि हम हाथ मिलाने यानी हैंड शेक को ना कहे और नमस्ते का अपनाएं।

नेहरा ने कोरोना वायरस संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए सभी से इस संदेश को अधिक से अधिक प्रसारित करने का आग्रह भी किया। ज्ञातव्य है कि गुजरात में अब तक कोरोना प्रभावित चीन और अन्य देशों से एक हजार से अधिक लोग लौट चुके है। पर राज्य में अब तक इसका एक भी पॉजिटिव केस नहीं आया है। बावजूद इसके कोरोना से निपटने के लिए राज्यभर में व्यापक तैयारियां की गई हैं।

Related posts

केरल में पांच और लोग कोरोना से संक्रमित, देश मेंतमाम सतर्कता के बावजूद दहशत का माहौल

Rajkotlive News

सूरत में प्रवासी मजदूरों और सुरक्षाकर्मियों के बीच झड़प, छोड़े गए आंसू गैस के गोले

Rajkotlive News

સુરતમાં ડાયમંડ બુર્સ દિવાળી સુધીમાં ખૂલ્લો મુકાશે.

Rajkotlive News