Breaking News Gujarat Surat

गुजरात के अस्पताल में टेस्ट के नाम पर महिलाओं को किया निर्वस्त्र, पूछे गए अशोभनीय सवाल

गुजरात के अस्पताल में टेस्ट के नाम पर महिलाओं को किया निर्वस्त्र, पूछे गए अशोभनीय सवाल

सूरत : नारी सुरक्षा और महिला सशक्तिकरण के दावों की पोल खोलनेवाला मामला सामने आया है। जिसमें स्मीमेर अस्पताल की ट्रेनी महिलाओं को परमैनेंट करने के लिए टेस्ट के लिए भेजा गया था। जहां पर्दे के पीछे निर्वस्त्र करने के साथ-साथ अश्लील सवाल पूछे गए थे। कुछ कुंवारी युवतियों को पूछा गया कि, गर्भवती बनी हो या नही? मामले को लेकर कर्मचारी संघ द्वारा शिकायत किए जाने पर जांच शुरू कर दी गई है।

पालिका कर्मचारी संगठन का आरोप है कि, इस टेस्ट के दौरान 10-10 महिलाओं को पर्दे के पीछे निर्वस्त्र किया गया। इस फिंगर टेस्ट के दौरान उनसे बदसलूकी की गई। और शारीरिक एवं मानसिक रुपसे प्रताड़ित करने के साथ शारीरिक संबंध को लेकर निजी सवाल पूछे गए। जिसको लेकर महिलाएं सुन्न हो गई। क्लर्क की नौकरी के लिए किए गए ऐसे टेस्ट और सवालों को लेकर लोगोंमे भी कई चर्चाए होने लगी है।

हालांकि विभागीय अध्यक्ष डो. वछराजानी के अनुसार अस्पताल की गाइडलाइंस के मुताबिक ही टेस्ट किए गए है। इस प्रकार से पुरुषों की जांच होती है या नहीं ईस बारेमें खुद को अनजान बताते हुए उसने कहा कि, महिलाओं को कोई शारीरिक परेशानी है या नहीं इस बात की जांच जरूरी है। बहरहाल कमिश्नर ने मामले को लेकर जांच के आदेश दिए है।

बतादे कि, हाल ही में भुज के सहजानंद कॉलेज में भी छात्राओं के पीरियड्स को लेकर हंगामा हुआ था। और महिलाओं को निर्वस्त्र कर पीरियड्स की जांच किए जाने पर प्रिंसिपल समेत चार को सस्पेंड किया गया था। ऐसे में अस्पताल की ट्रेनी महिलाओं को परमैनेंट करने के लिए किए गए इस टेस्ट को लेकर सरकार के महिला सुरक्षा के दावों पर कई सवाल उठने लगे है।

Related posts

નંદીગ્રામ બેઠક પર હાર બાદ પણ CM બની શકે છે મમતા.CM રહેવા માટે 6 મહિનામાં શું કરવુ પડશે જાણો..

Rajkotlive News

लोक संगीत के कार्यक्रममें पोरबंदर सीट पर भाजपा के प्रत्याशी रमेश धडुक पर रुपयों की बारिश

Rajkotlive News

साधु के भेस में शैतान, डेढ़ साल से महिला से ज्यादती करनेवाले तीन संत गिरफ्तार

Rajkotlive News

Leave a Comment