Breaking News Gujarat Rajkot Saurashtra

मैत्री करार के बाद 28 लाख ऐंठकर युवति करने लगी ब्लैकमेल, वृद्ध ने की खुदकुशी

मैत्री करार के बाद 28 लाख ऐंठकर युवति करने लगी ब्लैकमेल, वृद्ध ने की खुदकुशी

राजकोट : शहर के न्यु रिंगरोड पर रहनेवाली जिज्ञासा नामक युवति के फ्लेट में 65 साल के धनजीभाई ने झहरिली दवाई खाकर खुदकुशी कर ली। दरअसल दो साल पहले जिज्ञासा ने मैत्री करार कर मृतक को अपने जाल में फंसाया था। इतना ही नहीं मृतक से 28 लाख रुपये ऐंठने के बाद भी वह वीडियो वायरल करने की धमकी देकर उसे ब्लैकमेल कर रही थी। इसी कारण उन्होंने खुदकुशी की होने की हकीकत सामने आई है। जिज़के चलते पुलिस ने जिज्ञासा समेत उसके दोनों साथियों को भी दबोच लिया है।

संवाददाता के मुताबिक, ध्रोल के जाईवा गांव निवासी 65 वर्षीय धनजीभाई कासियाणी न्यु रिंगरोड स्थित रत्नम रेसीडेंसी में अपनी दोस्त जिज्ञासा उर्फ जागु के घर गए थे। दोपहर को एम्ब्युलेंस को फोन कर जागुने धनजीभाई के झहरिली दवाई पी लेने की जानकारी दी। हालांकि अस्पताल पहुंचने के बाद उपचार मिलने से पहले ही धनजीभाई की मौत हो गई थी। मामले की खबर मिलते ही मृतक के बेटे बालकृष्णभाई समेत के परिजन वहां पहुंच गए।

उन्होंने जिज्ञासा समेत उनके दो साथियों पर पिता को झहर देने का आरोप लगाया। और बताया कि, उनके पिता मंदिर कंस्ट्रक्शन का काम करते थे। गुजरात में वह 500 से ज्यादा मंदिर बना चुके है। दो साल पहले उनको जाल में फांसकर जिज्ञासा ने मैत्री करार किया था। बादमें बाबु आहीर और हरिया के साथ मिलकर फोटो-वीडियो वायरल करने की धमकी देने लगी थी। जिसके चलते मृतक थोड़े-थोड़े कर 25 से 28 लाख रुपये दे चुके थे।

हादसे के दिन मृतक ने अपने भाई और गांव की स्कूल के प्रिंसिपल शांतिलाल को फोन किया था। जिसमें भी उन्होंने जिज्ञासा, बाबु आहीर और हरिया ब्लैकमेल करता होने की और वह जिज्ञासा के घर जा रहे होने की बात बताई थी। कुछ देर बात दोबारा फोन करके उन्होंने कहा कि, तीनों ने मिलकर मुजे झहर खिला दिया है। इन दोनों कोल के रिकॉर्डिंग भी पुलिस को सौंपी गई। और धनजीभाई को जबर्दस्ती झहर देने का आरोप परिजनों ने लगाया है।

पुलिस का कहना है कि, जांच के दौरान डेढ़ माह पूर्व भी जिज्ञासा ने मृतक धनजीभाई के घर जाकर रुपयों की मांग की थी। इसी कारण परिजनों को दोनों के संबंध का पता लगा था। हालांकि जिज्ञासा समेत तीनों द्वारा ब्लैकमेल कर वृद्ध को खुदकुशी के लिए मजबूर किए जाने की हकीकत सामने आई है। जिसके चलते पुलिस ने तीनों को गिरफ्तार कर कानूनी कार्रवाई भी शुरु कर दी है। साथ ही इस गेंग द्वारा अन्य किसी को शिकार बनाया होने की दिशा में जांच की जा रही है।

Related posts

गुजरात : कोरोना के संक्रमण को रोकने का अनूठा प्रयास, 30 दिनों तक यज्ञ करेंगे संत

Rajkotlive News

પાવાગઢ શક્તિપીઠ

Rajkotlive News

गुजरात : पुलिस की मौजूदगी में 12 लोगों ने धारदार हथियारों से एक व्यक्ति को रेत डाला, वीडियो

Rajkotlive News

Leave a Comment