Breaking News Gujarat

गर्ल्स कॉलेज में कपड़े उतरवाकर पीरियड्स की जांच से छात्राओं में रोष

गर्ल्स कॉलेज में कपड़े उतरवाकर पीरियड्स की जांच से छात्राओं में रोष

कच्छ : भुज स्थित गर्ल्स कॉलेज में कपड़े उतरवाकर पीरियड्स की जांच करने का मामला सामने आया है। जिसे लेकर छात्राओं में रोष फैल गया है। हालांकि इस कॉलेज के ट्रस्टी और संचालकों द्वारा माफी मांगकर मामले को दबाने का प्रयास किया गया था। लेकिन छात्राओं द्वारा कानूनी कार्रवाई की मांग की जाने पर मामला गरमाया है।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक मामला सहजानंद गर्ल्स कॉलेज का है। जहां 11 फरवरी को वॉशरूम में कपड़े उतारकर छात्राओं के पीरियड्स की जांच की गई। इस बात को लेकर विद्यार्थिनीयां सुन्न हो गई। लेकिन बादमें छात्राओं ने मोबाईल से अपने पेरेंट्स को बुलाया। और अपने साथ हुई इस ज्यादती के बारेमें जानकारी दी है। जिसके चलते बड़ी संख्यामे पेरेंट्स यहां पहुंच गए थे। ट्रस्टियों द्वारा उनको समजाने का प्रयास किया जा रहा है।

छात्राओं के मुताबिक, मंगलवार को कॉलेज आते ही उनको ग्राउंड में खड़े रहने के लिए कहा गया। बादमें एक-एक छात्रा को वॉशरूम ले वह पीरियड्स में है या नहीं इसकी जांच की गई। छात्राओं का आरोप है कि, पिछले काफी समय से पीरियड्स को लेकर प्रिंसिपल समेत के स्टाफ द्वारा मौखिक रुपसे प्रताड़ना की जा रही थी। लेकिन मंगलवार को कपड़े उतारकर की गई इस जांच से उनके आत्मसन्मान को ठेस पहुंची है। और यह कृत्य करनेवालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई होनी चाहिए।

इधर कॉलेज के सूत्रों का कहना है कि, यहां छात्राओं की सुविधा के लिए सेनेटरी पेड़ का नाश करने की एक मशीन रखी गई थी। जिसका उपयोग करने के बजाय छात्राएं इधर-उधर फेंक देती थी। इसी कारण कॉलेज प्रशासन द्वारा छात्राओं का चेकिंग करने का निर्णय ले लिया गया था। हालांकि कपड़े उतरवाकर की गई इस चेकिंग को लेकर विवाद होने पर संचालकों द्वारा माफी मांगी गई है।

Related posts

ભુજમાં 15 લાખના સોનાની ચોરી કરનાર ઇરાની ગેંગના બે શખ્સ 14.14 લાખના સોના સાથે ઝડપાયા

Rajkotlive News

ક્રૂઝને મુસાફરો મળતા નથી, અલંગના 38 વર્ષના ઇતિહાસમાં પ્રથમવાર એક જ વર્ષમાં 14 ક્રૂઝ ભંગાવા આવ્યા

Rajkotlive News

કોરોના સંકટઃ અમદાવાદની હોસ્પિટલોમાં ઓક્સિજનનો વપરાશ ઘટ્યો .

Rajkotlive News

Leave a Comment