Breaking News Gujarat Politics

गुजरात में फिर गरमाया आरक्षण का मुद्दा, भाजपा सांसदों ने पीएम मोदी को लिखा खत

गुजरात में फिर गरमाया आरक्षण का मुद्दा, भाजपा सांसदों ने पीएम मोदी को लिखा खत

अहमदाबाद : गुजरात में एक बार फिर आरक्षण का मुद्दा गरमाया है। गांधीनगर में पिछले दो महीने से लोक रक्षक दल की भर्ती प्रक्रिया में अनियमितता को लेकर मालधारी और कोली समुदाय के लोग आंदोलन कर रहे हैं। वहीं, अब भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के चार आदिवासी सांसदों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर रबारी, भरवाड़ और चारण समुदाय को अनुसूचित जनजाति की सूची में से बाहर निकालने की मांग की है।

आदिवासी बाहुल्य जिला दाहोद के भाजपा के सांसद जशवंत सिंह भाभोर, बारडोली के सांसद प्रभुभाई वसावा, छोटाउयपुर के सांसद गीताबेन राठवा और भरुच के सांसद मनसुखभाई वसावा ने पीएम मोदी को पत्र लिखकर मांग की है कि, भारत सरकार द्वारा 19 अक्टूबर, 1965 के दिन जारी अधिसूचना में केवल जंगल क्षेत्र में रहते रबारी, भरवाड़ और चारण समुदाय को अनुसूचित जनजाति में शामिल किया गया था। उस समय सामाजिक और शैक्षणिक पिछड़े वर्ग में किसी भी समुदाय या जाति की घोषणा नहीं की गई थी।

गुजरात में 28 अगस्त, 1972 से बख्शी आयोग की नियुक्ति की गई। इस आयोग की सिफारिशों के बाद एक अप्रैल, 1978 से सामाजिक और शैक्षणिक तौर पर पिछड़ी जातियों में रबारी, भरवाड और चारण समुदाय का समावेश किया गया था। अब आदिवासी समुदाय के साथ रबारी, भरवाड़ और चारण समुदाय के बीच अनुसूचित जनजाति के प्रमाण पत्र को लेकर संघर्ष हो रहा है। जिससे आदिवासियों के साथ अन्याय हो रहा है।

भारत सरकार को सभी तरीके से पिछडे आदिवासी समुदाय की तरफ ध्यान देना चाहिए। सांसदों ने पीएम मोदी से अनुरोध किया है कि, रबारी, भरवाड़ और चारण समुदायक लोगों को अनुसूचित जनजाति की सूची में दूर करना चाहिए। बतादे कि, कुछ दिन पहले अल्पेश ठाकोर ने भी इसी मामले को लेकर आंदोलन करने की चेतावनी दी थी। ऐसे में सांसदों द्वारा लिखे गए इस पत्र से आरक्षण का मामला गरमाया है।

Related posts

गुजरात में ट्रेलर और टेम्पो की जोरदार के बीच भीषण टक्कर, 10 लोगो की मौत 6 घायल

Rajkotlive News

ऐसे लोगों की हौसला अफजाई के लिए पीएम ने उनके सम्मान में शाम 5 बजे घर के दरवाजे-खिड़कियों पर खड़े होकर ताली बजाने, थाली बजाने या घंटी बजाने का आग्रह किया. पीएम ने कहा कि लोग ऐसा करके इन लोगों को धन्यवाद कह सकते हैं. क्या होता है असली कर्फ्यू?

Rajkotlive News

पश्चिम विज कंपनी की लापरवाही, 2 BHK फ्लेट के मालिक को भेजा 9.40 लाख का बिल

Rajkotlive News

Leave a Comment