Breaking NewsIndiaViral

चीन से दिल्ली आने के बाद एयरपोर्ट में फंसी गुजराती युवति, पिता ने पीएम मोदी से मांगी मदद

चीन से दिल्ली आने के बाद एयरपोर्ट में फंसी गुजराती युवति, पिता ने पीएम मोदी से मांगी मदद

अहमदाबाद : कोरोना वायरस के कारण चीन के कई शहरों को सील किया जाने के कारण कई भारतीय वहां फंसे है। ऐसे में कई मुश्किलों का सामना कर चीन से दिल्ही तक पहुंची मूल रुपसे गुजराती ब्रिटिश युवति जेसल पटेल को एयरपोर्ट में रोक लिया गया है। जेसल के पिता दिनेश पटेल ने इस मामले को लेकर पीएम मोदी, ब्रिटेन के पीएम जानसन और गृहमंत्री प्रीति पटेल समेत कई लोगों को ट्विट कर मदद की अपील की है।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, मूल रुपसे भारतीय किंतु बहरहाल यूके के नागरिक दिनेश पटेल की 20 वर्षीय बेटी जेसल लंदन की ब्रुनेल यूनिवर्सिटी में कानून की पढ़ाई करती है। 3 माह की इंटर्नशिप के लिए वह चीन के शंघाई की लॉ फर्म से जुड़ी थी। और शंघाई में वह एक चीनी परिवार के साथ रहने लगी। जो उसको बेटी की तरह रखते थे।

हालांकि शंघाई में कोरोना वायरस के कहर के कारण वह उस परिवार के साथ एक सप्ताह शिंजियांग गांव में रुकी रही। उस गांव में किसी को भी कोरोना वायरस का असर नहीं देखा गया। किंतु चीनी सरकार ने उस गांव से आने-जाने पर प्रतिबंध लगा दिया है। बावजूद इसके चीनी परिवार ने स्पेशल टैक्सी कर जेसल को शंघाई एयरपोर्ट तक पहुंचाया था।

इतनी मुश्किलों का सामना करने के बाद जैसेतैसे यहां पहुंचने के बाद इस समय वह दिल्ली एयरपोर्ट पर फंस गई है। इसकी वजह ओसीआई (ओवरसीज सिटीजन ऑफ इंडिया) नियम के कारण जेसल फंस गई है। अब हालात ऐसे हैं कि वह न तो भारत में प्रवेश कर सकती है और न ही यूके जा सकती है। चीन से जान बचाकर लौटने के बाद उसके वापस चीन जाने की नौबत आ गई है।

जेसल के पिता दिनेश पटेल के मुताबिक, वह शंघाई से दिल्ली होते हुए अहमदाबाद आने वाली थी। किंतु दिल्ली एयरपोर्ट पर ओसीआई नियमों के कारण उसे रोक लिया गया है। और वापस चीन के शंघाई जाने के लिए कहा जा रहा है। इस कारण वे चिंतित हैं। उन्होंने भारत सरकार, इमिग्रेशन से मदद की अपील की है। साथ ही प्रधानमंत्री मोदी, ब्रिटेन के पीएम जानसन, और गृहमंत्री प्रीति पटेल समेत कई लोगों को ट्विट कर मदद की अपील की है।

Related posts

ગીર અને બૃહદગીરના તમામ સિંહો સલામતઃ વનવિભાગ
અમદાવાદઃ રાજ્યમાં તાજેતરમાં આવેલા તાઉ-તે

Rajkotlive News

सौतेले पिता और चाचा 3 सालों से दो सगी बहनों को बनाते थे हवस का शिकार, मां भी रहती थी चुप

Rajkotlive News

*કોરોનાના કારણે સ્ત્રીઓ એ અનુભવ્યા ઘણા માનસિક અને શારીરિક ફેરફાર* સૌરાષ્ટ્ર યુનિવર્સિટીના મનોવિજ્ઞાન ભવનના પ્રોફેસર અને વિદ્યાર્થીનીsનો સર્વે.

Rajkotlive News

Leave a Comment