AhmedabadBreaking NewsGujarat

बेटा-बेटी के वकील बनने के बाद 55 साल की उम्र में मां ने की वकालत की पढ़ाई, चार गोल्ड मैडल जीते

बेटा-बेटी के वकील बनने के बाद 55 साल की उम्र में मां ने की वकालत की पढ़ाई, चार गोल्ड मैडल जीते

अहमदाबाद : नीति रावल नामक 55 साल की महिला ने साबित किया है कि, सपनों को पूरा करने की कोई उम्र नहीं होती। 30 साल तक गृहिणी रहकर अपने दो बच्चों के वकील बनने के बाद उसने न सिर्फ वकालत की पढ़ाई शुरु की थी। बल्कि गुजरात विश्वविद्यालय में चार गोल्ड मैडल भी जीतकर दिखाए। नीति की बेटी वकील है और उसकी शादी हो चुकी है। और उनका बेटा मुंबई के एक लॉ फर्म में नौकरी कर रहा है।

नीति रावल के पति मौलिन पत्नी की इस उपलब्धि से बेहद खुश हैं। वह कहते हैं कि ‘मुझे अपनी पत्नी पर गर्व है कि, उसने 30 साल तक गृहिणी रहने के बाद पढ़ाई पूरी की।’ अब वह लॉ में मास्टर्स डिग्री करना चाहती हैं। इसके लिए उन्होंने दाखिले के फॉर्म भी भर दिए हैं। गुजरात विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में नीति के साथ उनके पति और बेटी भी शामिल हुए थे। यहां अपनी मां को गोल्ड मेडल पाता देख बेटी काफी खुश दिखाई दे रही थी।

नीति कहती हैं, ‘बेटे के मुंबई चले जाने और बेटी की शादी के बाद घर पर मुझे काफी अकेला महसूस होता था। मैं कुछ करना चाहती थी।’ इसके बाद नीति ने वो पेशा चुनने का फैसला किया जिसमें उनका परिवार और उनके बच्चे काम कर रहे हैं। नीति ने गुजरात विश्वविद्यालय में दाखिला ले लिया।

Related posts

પતિએ ભરણપોષણ પેટે 45 લાખ આપ્યા પણ પત્નીએ કોર્ટમાં કહ્યું, ‘મારે પૈસા નથી જોઈતા, પતિ સાથે જ રહેવું છે’

Rajkotlive News

વજન ઘટાડવા ના આ છે 10 કુદરતી અને સરળ ઉપાય.

Rajkotlive News

પેટ્રોલ-ડીઝલનો ભાવ 100ને પાર પણ વેચાણમાં એક લિટરનોય ઘટાડો નહીં

Rajkotlive News

Leave a Comment