Breaking News Gujarat Rajkot Saurashtra

तीन साल का मासुम आंटी-आंटी चिल्लाता रहा, और जेठानी ने देवरानी के बेटे का गला घोंट दिया!

तीन साल का मासुम आंटी-आंटी चिल्लाता रहा, और जेठानी ने देवरानी के बेटे का गला घोंट दिया!

राजकोट : शहर में और एक दिल दहलनेवाला हत्या का मामला सामने आया है। जिसमें 3 साल का मासुम आंटी-आंटी चिल्लाता रहा, और जेठानी ने देवरानी के बेटे का गला घोंटकर मौत के घाट उतार दिया। अपने बेटे के बजाय देवरानी के बेटे को लोग अच्छी तरह से बुलाते थे। जिसके चलते जलन के कारण जेठानी ने यह कदम उठाया होने का स्वीकार किया। पुलिस ने आरोपी जेठानी को गिरफ्तार कर कानूनी कार्रवाई शुरु की है।

संवाददाता के मुताबिक, 35 वर्षीय कमलेश डोबरिया की पत्नी यशोदा तीन साल के बेटे खुशाल को हंमेशा की तरह आंगनवाड़ी छोड़ गई । और माता कांताबेन उसको लेने गई थी। तभी संचालिका ने खुशाल को उसकी आंटी पारुलबेन ले गई होने की बात बताई। लेकिन कमलेश के बड़े भाई अल्पेश और भाभी पारुल ने इस बात का साफ इन्कार कर दिया। जिसके कारण मामला पुलिस के पास पहुंचा।

मामले की जांच के दौरान पुलिस द्वारा पारुलबेन की कड़ी पूछताछ करने पर उन्होंने अपना गुनाह स्वीकार किया। और बताया कि, उसका बेटा खुशाल से छह महीने बड़ा है। लेकिन परिवार में सब खुशाल को ही अच्छी तरह रखते थे। इसी कारण देवरानी के साथ भी मनमुटाव हो गया था। इसी कारण उसने न सिर्फ खुशाल को वहां से उठाया। बल्कि, गला घोंटकर हत्या कर दी। और शव को कंतान में लपेटकर क्रीष्ना चौक के पास स्थित डस्टबीन में ही फैंक दिया है।

पारुलबेन की इस बात को सुनकर पुलिस भी चौंक उठी। और उसकी बताई जगह पहुंचकर जांच करने पर खुशाल का मृतदेह मिला। पुलिस ने इस मासुम के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर आरोपी जेठानी पारुल को गिरफ्तार कर कानूनी कार्रवाई शुरु कर दी है। पर इस घटना को लेकर माता यशोदा और पिता कमलेश समेत परिजनों में मातम फैल गया है। शहर में यह मामला चर्चा का विषय बन गया है। और अपनी ईर्ष्या में मासुम की जान लेनेवाली जेठानी को लोग कोसने लगे है।

Related posts

અમદાવાદમાં વેક્સિન લેનારા 5 બાળકોને મ્યુનિસિપલ કોર્પોરેશન દ્વારા આઇપેડ અપાયા

Rajkotlive News

સૌરાષ્ટ્ર યુનિવર્સિટીનો ગોઠવણીકાંડ

Rajkotlive News

उत्तरायण के त्योहार पर दो गुटों में भिड़ंत, एकदूसरे पर लाठियां और सोडा बोतल फेंकी गई, वीडियो

Rajkotlive News

Leave a Comment