Breaking NewsGujaratRajkotSaurashtra

राजकोट में दलित युवक की हत्या को लेकर समुदाय में रोष, सरकार को दिया 24 घंटे का अल्टीमेटम

राजकोट में दलित युवक की हत्या को लेकर समुदाय में रोष, सरकार को दिया 24 घंटे का अल्टीमेटम

राजकोट : कल रात हुई कोटणासांगाणी के माणेकवाडा गांव के युवक की हत्या का मामला गर्माया है। पूरा दलित समुदाय इसे लेकर रास्ते पर उतर गया है। और शहर के सरकारी अस्पताल के पास स्थित बाबासाहब की प्रतिमा के पास चक्काजाम कर दिया गया है। मृतक युवक समेत उसके परिजनों के लिए न्याय की मांग दलित समुदाय ने की है। दलित अग्रणियों द्वारा आवेदन देकर अपनी मांगे सरकार के सामने रखी गई है। साथ ही लाश स्वीकार ने का इन्कार कर 24 घंटेमे ही मांगे पूरी नहीं किए जाने पर पूरे राज्य में आंदोलन करने की चेतावनी भी दी है।

जानिए क्या था पूरा मामला

कल रात कोटणासांगाणी के माणेकवाडा गांव में दलित युवक राजेश नानजी सोंदरवा पर धारदार हथियारों द्वारा वार कर निर्मम हत्या की गई। एक साल पहले इसी तरह मृतक युवक के पिता नानजीभाई की भी हत्या कर दी गई थी। उस वक़्त भी दलित समुदाय द्वारा नानजीभाई के हत्यारों को कड़ी सजा दिलाने के साथ-साथ परिजनों को नौकरी और जमीन देने की मांग की गई थी। हालांकि ये मांगे आजतक पूरी नही की गई है।

दलित समुदाय ने चक्काजाम कर सरकार को दिया 24 घंटे का समय

नानजीभाई के बेटे राजेश की हत्या होने पर पूरे दलित समुदाय का रोष एकबार फिर भड़क उठा है। समुदाय द्वारा मृतक की डेडबॉडी का स्वीकार करने से इन्कार करने के साथ-साथ बाबासाहब की प्रतिमा के पास ही चक्काजाम कर दिया गया था। हालांकि दलित विधायक लाखाभाई सागठिया द्वारा मामले को लेकर कलेक्टर को आवेदन सुपरत किया गया। साथ ही सरकार को 24 घंटे का अल्टीमेटम भी दिया गया है। और मांगे पूरी नहीं होने पर पूरे राज्य में आंदोलन करने की चेतावनी भी दी गई।

दलित समुदाय द्वारा की गई मुख्य मांग

1) मृतक राजेश का फोरेंसिक पोस्टमार्टम कर उसकी विडियोग्राफी की जाए।
2) मृतक के शरीर पर हुए घाव की फोटोग्राफी कर के उस फोटोज को जांचमे शामिल किया जाए।
3) परिवार और गांव के दलित समुदाय को आत्मरक्षा के लिए हथियारों के लायसन्स दिए जाए।
4) एससी, एसटी सेल डीवायएसपी श्रुति महेता की ढ़ीली और आरोपीलक्षी नीतियों के कारण उसको सस्पेंड किया जाए।
5) पीड़ित परिवार माणेकवाड़ा में असुरक्षित होने के कारण उसको राजकोट में जमीन-मकान समेत 50लाख की सरकारी मदद दी जाए।
6) मृतक राजेश की माता और नानजीभाई की पत्नी को सरकारी नौकरी दी जाए। और उसके दूसरे बेटे की पढ़ाई का खर्च भी सरकार द्वारा दिया जाए।

Related posts

દ્વારકા ખાતે જન્માષ્ટમી મહોત્સવની ઉજવણીની તૈયારીઓને અપાયો આખરી ઓપ

Rajkotlive News

રાશિફળ : 25/09/2021

Rajkotlive News

आइसोलेशन वार्ड से घर लौटी महिला की मौत, डॉक्टर पर रेप के आरोप

Rajkotlive News

Leave a Comment