Breaking News Life style

एमपी का मोस्ट वॉन्टेड आरोपी गुजरात से गिरफ्तार, 56 मामले दर्ज, 1.60 लाख का था ईनाम

एमपी का मोस्ट वॉन्टेड आरोपी गुजरात से गिरफ्तार, 56 मामले दर्ज, 1.60 लाख का था ईनाम

अमरेली : मध्यप्रदेश हनीट्रैप केस के मुख्य आरोपी व इंदौर से प्रकाशित होनेवाले अखबार के मालिक जीतू सोनी को क्राइम ब्रांच ने अमरेली से गिरफ्तार किया है। जीतू सोनी के खिलाफ रेप, गैंग रेप, मानव तस्करी और जबरन वसूली समेत 56 केस दर्ज है। इतना ही नहीं उसके ऊपर 1.60 लाख रुपयों के इनाम की भी घोषणा की गई थी। लेकिन वह पिछले काफी समय से पुलिस को चकमा देकर गुजरात में छिपा था। आरोपी को पनाह देने व भागने में मदद करने के आरोप में ही राजकोट क्राइम ब्रांच के कॉन्स्टेबल को सस्पेंड किया गया है। और अन्य एक पीएसआई का ट्रैफिक ब्रांच में तबादला कर दिया गया है।

राज्य की कमलनाथ सरकार में शिवराज सिंह चौहान और उनके टॉप सलाहकारों समेत बीजेपी नेताओं की लड़कियों से कथित बातचीत को अखबार में छापने के बाद जीतू सोनी सुर्खियों में आया था। जीतू मामले की बातचीत का ऑडियो अपने अखबार के यूट्यूब चैनल पर भी जारी कर दिया था। पूर्व की कांग्रेस सरकार के समय यानी 31 नवंबर 2019 को पुलिस ने पहली बार उसके होटल माय होम सहित अन्य ठिकानों पर छापा मारा था। तब जीतू सोनी वहां से फरार हो गया। और मध्यप्रदेश पुलिस ने उस पर 1.60 लाख रुपयों के इनाम की घोषणा की थी।

इसके बाद पुलिस ने, सांझा लोकस्वामी अखबार के मालिक जीतू सोनी के भाई, महेंद्र सोनी को गुजरात के अमरेली से गिरफ्तार किया था। उस पर पूर्ववर्ती मध्य प्रदेश सरकार ने 10,000 का ईनाम रखा था। महेंद्र सोनी को भी जीतू सोनी के साथ कई मामलों में सह आरोपी बनाया गया था। जीतू सोनी पर तत्कालीन कमलनाथ सरकार ने कई कार्रवाई की थी। जिसमें इंदौर नगरनिगम ने प्रेस कॉम्प्लेक्स क्षेत्र में स्थित सांझा लोकस्वामी के दफ्तर को तोड़ने का आदेश दिया था। जिस अखबार के लिए ही जीतू सोनी ने इंदौर विकास प्राधिकरण (आईडीए) से जमीन लीज पर ली। उसकी लीज को भी खारिज कर दिया गया। और जीतू सोनी के कई होटलों व बंगलों को पहले ही जमींदोज किया गया था।

Related posts

मैंने अपने पति से संबंध रखने को कहा फिर क्यों नहीं मानती ? बोल पत्नी का पड़ोसन पर तेजाब फेंकने का प्रयास

Rajkotlive News

युवक ने कहा ‘में जब भी बुलाऊ आ जाना वरना…’ युवति नहीं मानी तो किया ऐसा

Rajkotlive News

गृह मंत्री अमित शाह का राहुल गांधी को जवाब, कहा- राष्ट्रहित के लिए सस्ती राजनीति छोड़ें

Rajkotlive News